Saturday, 2 June 2012

आसूओ की सौगात


मुहब्बत का अंजाम 
जो भी हो मगर
उससे कभी मोहब्बत 
कम नही होती 
मुहब्बत मे मिले 
जो आसूओ की सौगात 
वो खुशी भी हो सकती है 
हमेशा गम नही होती,......प्रीति

0 comments:

Post a Comment