Wednesday, 18 April 2012

मासूमियत


सबको तुम्हारी कमियां दिखाई देती है
पर जाने क्यूं 
कभी तुममे बुराई बस मै ही नही देख पाई,

मैने जब भी देखा दिल की नजरों से तुम्हे
मुझे तो तुममें 
खूबियां और मासूमियत ही नजर आई 

शायद तुम्हारी अच्छाई भी तुम्हारे प्यार की तरह है
सिर्फ उसे ही दिखती हैं
जिसने तुमसे जीवन भर सच्ची प्रीत निभाई....प्रीति

0 comments:

Post a Comment